CSIR-Central Electrochemical Research Institute
(A premier R&D Institute in Electrochemistry)
About CSIR

वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद
वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर), भारत, की स्थापना वर्ष 1942 में हुई। यह एक स्वायत्त संस्था है तथा भारत के प्रधानमंत्री इसके अध्यक्ष हैं । सीएसआईआर 37 अत्याधुनिक संस्थान का ऐसा समूह है, जिसकी गिनती विश्व के अग्रणी वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान संगठनो में होती है। सीएसआईआर को 8000 अनुसंधान विद्यार्थियों, 4600 वैज्ञानिक तथा 8000 वैज्ञानिक एवं तकनीकी कर्मचारियों की विशेषज्ञता और अनुभव प्राप्त है। अत्याधुनिक अवसंरचनात्मक सुविधाओं
एवं वैज्ञानिक तथा तकनीकी कार्मिक-शक्ति के साथ सीएसआईआर वास्तव में राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय महत्व के वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान एव विकास के सभी क्षेत्रों जैसे कि वांतरिक्ष से समुद्री अन्वेषण, माइक्रो–इलेक्ट्रॉनिक्स से संरचनात्मक और पर्यावरणीय अभियांत्रिकी, स्मार्ट मेटीरियल से मेकाट्रॉनिक्स, पेट्रोरसायन से संश्लेषित जीवविज्ञान तथा रोबोटिक्स और माइक्रो मशीन से औषधीय तथा कृषिरसायन तक, में कार्यरत है ।

Council of Scientific and Industrial Research
Council of Scientific and Industrial Research (CSIR), India, established in 1942, is an autonomous Society with the Prime Minister of India as its President.  An ensemble of 37 state-of-the-art institutes and 3 distinct units, CSIR is amongst the foremost scientific and industrial research organizations in the world.  CSIR's expertise and experience are embodied in its ~4600 scientists, ~8000 scientific and technical support personnel and ~8000 research students.  Having sophisticated infrastructure and scientific and technical manpower, CSIR covers practically the entire spectrum of scientific and industrial R&D of national and international importance.  This ranges from aerospace to ocean exploration, micro-electronics to structural and environmental engineering, smart affordable materials to mechatronics, petrochemicals to synthetic biology, and from robotics and micro machines to drugs, pharmaceuticals and energy technology.

 

http://rdpp.csir.res.in/csir_acsir/Home.aspx